Logo
September 30 2020 09:25 AM

सांडे के तेल की खतरनाक सच्चाई जान हेरान हो जाऐंगे आप

Posted at: Aug 22 , 2017 by Dilersamachar 9734

दिलेर समाचार,सांडे का तेल बड़े कमाल की चीज है जिसे हकीम लोग लिंग का एवरीथिंगपन(टेढ़ापन, पतलापन, छोटापन) दूर करने के लिए कस्टमर को चिपकाते हैं, ये निकाला जाता है सांडा नाम के जीव से. इसका वैज्ञानिक नाम युरोमेस्टिक हार्डवीकी है. छिपकली जैसा होता है सरीसृप परिवार का प्राणी है. शकल से भले शक्ति कपूर जैसा डरावना हो लेकिन होता है सीधा आलोक नाथ जैसा. इसी सीधेपन का फायदा उठा कर शिकारी इनको धर लेते हैं. तुलसी ने कहा है न ‘अधिक सिधाई है बड़दोसू’ राजस्थान के कुछ क्षेत्रों में पाया जाता है, शुष्क माहौल में रहने वाला है. नर सांडा की लम्बाई 2 फुट तक हो सकती है लेकिन मादा की कम होती है. इसके पास पंजे बड़े मजबूत होते हैं लेकिन उनका इस्तेमाल सिर्फ बिल खोदने के लिए करता है ये नहीं कि पकड़ने वालों को खर्चा पानी दे सके. कहा जाता है कि इसके तीन दांत होते हैं, एक ऊपर की तरफ और दो नीचे. अप्रैल मई के महीने में इनका इश्क परवान चढ़ता है और मादा हो जाती है प्रेगनेंट. फिर ये 15-20 अंडे देती है लेकिन आधे से ज्यादा बेकार हो जाते हैं.

पकड़ने वाले बहुत होशियारी से काम लेते हैं क्योंकि ये भी थोड़ा सयाना होता है. यह अपने बिल को मिट्टी से ढंककर रखता है और पकड़ने वाले उस बिल को खोज लेते हैं जहां ताजी मिट्टी भरी होती है. फिर या तो उसको खोद देते हैं या उसमें कर देते हैं धुंआ, बेचारे सांडाराम को मजबूरन बाहर आना पड़ता है. पकड़ते ही पहला वार होता है कमर पर जिससे भागने के काबिल रह नहीं जाता और फिर काट कर मांस खा लेते हैं.

अब सोचो तेल कहां गया, तो तेल इधर है भाईसाब. इसकी पूंछ के पास होती है एक छोटी सी थैली. इस थैली की चर्बी को गरमा कर दो तीन बूंद तेल निकल आता है बस. इतनी सी बात के लिए बेचारे को जान गंवानी पड़ती है. अब सुनो असली बात. यह लिंग के सेंटीनेंस के लिए दवाई हैये नहीं है. इसमें होता है पॉली अन्सेच्युरेटेड फैटी एसिड, जोड़ो और मांसपेशियों के दर्द में राहत देता है ये.

लोग इसको भिंडी की सब्जी की तरह खुल कर बेंच रहे हैं जबकि सांडा मारना अब गैरकानूनी है. इसको विलुप्तप्राय प्रजाति घोषित कर दिया गया है. अगली बार मर्द बनने के लिए किसी मजबूर का निकाला तेल लगाने की बजाय अमिताभ की फिल्म देख लीजिए और गाना गाइये- मैं हूं मर्द तांगे वाला.

ये भी पढ़े: नौ सालों बाद फिर से पाक खेलेगी अपने ही घर में क्रिकेट


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED