Logo
August 7 2020 02:46 PM

आपका कपड़े पहनने का Style बताएगा कैसी है आपकी आदतें

Posted at: Jul 2 , 2020 by Dilersamachar 5828

दिलेर समाचार, नीतू गुप्ता । प्राचीन काल से ही वस्त्रा मानव के साथ जुड़े हैं। वस्त्रा हमारा शरीर ढकने के साथ हमें मौसम के प्रभाव से भी बचाते हैं। वस्त्रा वही होते हैं पर उनको पहनने का तरीका और संभालने का तरीका सभी का भिन्न होता है। इसी भिन्नता के कारण म-नुष्यों के स्वभाव, व्यक्तित्व और चरित्रा को पहचानने में आसानी होती है। रंगों का चयन, पहनावा और कपड़ों की स्थिति भी सामने वाले का स्वभाव व व्यक्तित्व कैसा है, इसे समझने में मदद करते हैं। आइये जानें कि क्या वस्त्रा सचमुच व्यक्तित्व और स्वभाव बताने में मददगार हैं?

ब्रांडेड कपड़े:- जो लोग हमेशा ब्रांडेड कपड़े पहनते हैं, वे महत्त्वाकांक्षी होते हैं और सदा ऊपर उठने का प्रयास करते हैं। ऐसे लोग स्वभाव के मूडी होते हैं। इनमें आत्मविश्वास की कमी होती है। ये लोग दूसरों के कामों पर नज़र रखते हैं और स्वभाव में ईर्ष्या वाले होते हैं। ऐसे लोगों की दोस्ती अपने स्तर वाले लोगों से होती है। यदि वे स्वयं अधिक पैसे वाले नहीं होते तो भी दूसरों पर अपनी अमीरी का प्रभाव छोड़ते हैं।

ऐेसे लोग अपने सर्कल में अपनी अलग पहचान बनाते हैं। वे प्रायः स्वार्थी, चतुर और आत्मसम्मानी होते हैं। अपने आत्मसम्मान के विरोध में कुछ भी सहन नहीं कर सकते। अपने आत्मसम्मान को बचाने के लिए कभी-कभी कुछ गलत भी कर लेते हैं। अपने से कमज़ोर या कम स्तर वालों के आगे शेर होते हैं और अपने से ऊंचे लोगों के सामने चुप हो जाते हैं।

ढीले कपड़े:- जो लोग थोड़े ढीले वस्त्रा पहनते हैं, वे स्वभाव में शांत तथा कोमल होते हैं। दूसरों का अपने अनुभवों से मार्गदर्शन करना उन्हें अच्छा लगता है। ऐसे लोग स्वयं को परिस्थिति के अनुसार आसानी से ढाल लेते हैं। वे दूसरों को भी अपनी तरह सरल स्वभाव वाला समझते हैं और कई बार धोखा भी खा लेते हैं। वे स्वभाव से मिलनसार व अंतर्मुखी होते हैं।

ऐसे लोग कला प्रेमी, प्रकृति प्रेमी और सौंदर्य प्रेमी होते हैं। वे प्रायः हंसमुख होते हुए भी गंभीर स्वभाव के होते हैं। वे समय का सदुपयोग करना जानते हैं, नियमानुसार काम करने में विश्वास रखते हैं और जीवन को सुनियोजित ढंग से जीना पसन्द करते हैं।

तंग वस्त्रा:- तंग वस्त्रा पहनने वाले लोग चुस्त और फुर्तीले होते हैं। ये लोग कुछ पाने के लिए शार्टकट अपनाते हैं, स्वभाव से निडर, साहसी और बहुमुखी होते हैं। ये लोग दिखावा अधिक करते हैं। हाजिर जवाब होने के साथ बहस करने में पीछे नहीं रहते।

ऐसे लोग मनमौजी और जिद्दी होते हैं और इन्हें लोगों के बीच रहना अच्छा लगता है। ऐसे लोग कामुक प्रवृत्ति के होते हैं और ऐश्वर्यपूर्ण जीवन जीने में विश्वास करते हैं। चालाकी से पैसा कमाने के नये नये ढंग ढूंढते हैं और स्वयं को असुरक्षित महसूस करते हैं।

हैंडलूम वस्त्रा:- हैंडलूम वस्त्रा पहनने वाले ऊंचे विचारों वाले, भावुक और प्रतिभावान होते हैं। स्वभाव से ऐसे लोग शांत, सहनशील और आत्मविश्वासी होते हैं। जिन कामों के लिए संघर्ष करते है उनमें वे सफल भी होते हैं। स्वभाव से हमदर्द और दूसरों की मदद करने वाले होते हैं। इनकी सोच दूरदर्शी होती है। अपने हंसमुख स्वभाव के कारण लोगों में प्रिय होते हैं, समय के पक्के और नियमानुसार चलने वाले होते हैं।

ऐसे वस्त्रा धारी मान सम्मान और धन प्रतिष्ठा में संतुलन बना कर रखते हैं। जिनसे दोस्ती होती है उनसे पूरी तरह दोस्ती निभाते हैं, जिनसे नाराज़ होते हैं उनसे उनकी नाराजगी चेहरे से झलकती है।

ये लोग सफाई पसन्द होते हैं और अच्छे मार्गदर्शक भी। दूसरों को कभी नुकसान नहीं पहुंचाते, न ही दूसरों पर आश्रित रहते हैं। अपने काम स्वयं निपटाने में विश्वास रखते हैं। आध्यात्मिक प्रवृत्ति के होने के साथ-साथ न्यायप्रिय भी होते हैं।

रंगों के चयन से:- वस्त्रों के रंगों से भी व्यक्तित्व को पहचाना जा सकता है क्योंकि लोग अधिकतर वही रंग पहनते हैं जिन्हें वो पसंद करते हैं। इससे उनके स्वभाव और व्यक्तित्व को पहचानने में आसानी होती है।

नीला रंग:- ऐसे लोग परिश्रमी और गहरे विचारों वाले होते हैं। दूसरों की जिम्मेदारियों को खुशी से निभाते हैं। अधिक परिश्रम के कारण कभी-कभी ऐसे लोग निराश भी हो जाते हैं। जल्दी से दूसरों पर विश्वास न कर बात की तह तक जाना उन्हें अच्छा लगता है।

गुलाबी रंग:- ऐसे लोग स्वभाव से समझदार और प्यार करने वाले होते हैं। उम्र के अनुसार व्यवहार में बचपन होता है। ऐसे लोगों में इच्छा शक्ति की कमी होती है।

सफेद रंग:- सफेद रंग धारी शांत, संतुलित और आशावादी होते हैं। स्पष्ट विचारों वाले होने के कारण सफल अधिक होते हैं। इनका जीवन साधारण होता है।

पीला रंग:- पीले रंग को पसन्द करने वाले लोग प्रेरक होते हैं और चुनौतियों का सामना करने वाले होते हैं। ये लोग मीठे बोलने वाले और समर्पण भाव वाले होते हैं। ऐसे लोग अपने काम में मस्त रहते हैं और सहज स्वभाव से काम करते हैं।

भूरा रंग:- भूरे रंग को चाहने वाले आत्मकेंद्रित होते हैं और तनावग्रस्त रहते हैं। ऐसे लोगों को चाहिए कि अपने कामों को प्राथमिकता के अनुसार महत्त्व दें और समय का सही नियोजन करें। ऐसे लोग अच्छे मार्गदर्शक साबित होते हैं।

हरा रंग:- ऐसे लोग प्रभावशाली वाणी बोलकर दूसरों पर अच्छा प्रभाव डालते हैं पर दूसरों की बातों पर स्वयं जल्दी विश्वास नहीं करते। इन्हें घूमना अच्छा लगता है, परिस्थितियों और समस्याओं पर ऐसे लोग काबू आसानी से पा लेते हैं। इन्हें किसी के अधीन काम करना पसंद नहीं होता।

काला रंग:- काले रंग को चाहने वाले लोग दृढ़ इच्छा शक्ति वाले और अनुशासित होते हैं। ये लोग अपने मन की बात जल्दी से दूसरों पर जाहिर नहीं होने देते और अपनी जिम्मेदारी पूरी तरह निभाते हैं।

लाल रंग:- लाल रंग पसन्द करने वाले लोग स्वभाव से गुस्से वाले, ऊर्जावान और दृढ़ शक्ति वाले होते हैं। धैर्य की कमी होने के कारण दूसरों की कम सुनते हैं और सुनाते अधिक हैं। ऐसे लोग श्रृंगार प्रिय होते हैं और लोगों में आकर्षण का केंद्र बनना चाहते हैं।

ये भी पढ़े: आपकी नाजुक Skin को खूबसूरत निखार देगा ये जादुई नुस्खा


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED