Logo
September 22 2021 07:29 PM

फिर खतरे की घंटी बजाता यमुना नदी का जलस्तर, 100 से अधिक परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया

Posted at: Aug 1 , 2021 by Dilersamachar 9389

दिलेर समाचार, नई दिल्ली. दिल्ली और यमुना नदी (Delhi And Yamuna River) के तटीय इलाकों में लगातार बारिश (Rain)  के कारण यमुना में जलस्तर एक बार फिर बढ़ गया है और रविवार सुबह यह खतरे के निशान 205.33 मीटर से थोड़ा ही नीचे दर्ज किया गया. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. अधिकारियों के अनुसार, यमुना के डूब क्षेत्रों से 100 से अधिक परिवारों को कुछ दिनों के लिए ऊंचाई वाले इलाकों में पहुंचाया गया है. नदी के तटीय इलाकों में भारी बारिश के कारण जलस्तर (Water Level) खतरे के निशान 205.33 मीटर को पार कर गया. इसके बाद शुक्रवार को दिल्ली प्रशासन ने बाढ़ की चेतावनी जारी की थी और संवेदनशील जगहों से लोगों को निकालने का काम शुरू किया था.

बाढ़ नियंत्रण कक्ष के अनुसार सुबह नौ बजे पुराना रेलवे पुल पर जलस्तर 205.30 मीटर दर्ज किया गया. शुक्रवार को यमुना में जलस्तर खतरे के निशान के ऊपर चला गया था और रात नौ बजे तक यह 205.59 मीटर के स्तर तक पहुंच गया था. शनिवार शाम को जलस्तर 204.89 मीटर दर्ज किया गया था. हरियाणा द्वारा शुक्रवार को हथिनीकुंड बैराज से और अधिक पानी छोड़े जाने के कारण दिल्ली पुलिस और पूर्वी दिल्ली जिला प्रशासन ने राजधानी में यमुना के डूब क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का काम शुरू किया. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘बाढ़ का खतरा बना हुआ है. हमने विभिन्न क्षेत्रों में नावों को तैनात किया है और संवेदनशील क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों को अस्थायी रूप से दिल्ली सरकार के तंबू और आश्रय गृहों में ले जाया जा रहा है.’’

ये भी पढ़े: 'फ्री बिरयानी' पड़ सकती है DCP को भारी, जानें क्या है पूरा मामला

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED