Logo
February 7 2023 09:03 PM

केरल में भारी बारिश और बाढ़ का यह है कारण नासा ने किया खुलासा…

Posted at: Aug 22 , 2018 by Dilersamachar 9651

 दिलेर समाचार, वाशिंगटन: नासा ने उपग्रह से प्राप्त आंकड़ों का इस्तेमाल करते हुए एक वीडियो जारी किया है. इससे केरल में बारिश और बाढ़की स्थिति की भयावहता का पता चलता है.

भारत में आम तौर पर इस समय में ग्रीष्मकालीन मॉनसून आता है और क्षेत्र में भारी बारिश होती है. हालांकि सामान्य मॉनसून के दौरान समय-समय पर कम दबाव के क्षेत्र बन सकते हैं. इस कारण अधिक बारिश हो सकती है. केरल पिछले सौ साल में सबसे विनाशकारी बाढ़ से जूझ रहा है और अब तक 231 लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों लोग विस्थापित हुए हैं. केंद्र ने इस आपदा को ‘गंभीर’ बताया है.

नासा ने एक बयान में कहा है कि हिमालय की भौगोलिक स्थिति और पश्चिमी घाट के कारण दक्षिणी पश्चिमी तट पर भारी बारिश हो रही है. यह पर्वतश्रेणी हिमालय जितनी बड़ी तो नहीं है लेकिन भारत के पश्चिमी तट के समानांतर चलती है. इसकी कई चोटियां 2,000 मीटर से भी अधिक ऊंची हैं 
इस तरह से देखें तो पश्चिमी घाट की माकूल स्थिति के कारण भारत के पश्चिमी तटीय इलाकों में अधिक बारिश होती है. दक्षिण पश्चिम मॉनसून के तहत उत्तरी हिंद महासागर और अरब सागर से आने वाली गर्म हवाओं में निहित नमी इस पर्वत श्रेणी से टकराती है, जिससे अधिक बारिश होती है.

ये भी पढ़े: Xiaomi Poco F1, OnePlus 6 और Asus ZenFone 5Z में कौन बेहतर?

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED