Logo
February 24 2024 06:38 PM

विनोद तोमर जानबूझकर अकेले में महिला पहलवानों को बृजभूषण सिंह से कराता था मुलाकात

Posted at: Jul 13 , 2023 by Dilersamachar 9421

दिलेर समाचार, नई दिल्ली. भारतीय रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) के सहायक सचिव विनोद तोमर (Vinod Tomar) की मुश्किलें भी बढ़ सकती हैं. 6 महिला पहलवानों की ओर से लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोप के बाद दिल्ली पुलिस ने भारतीय कुश्ती महासंघ के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह (Brijbhushan Sharan Singh) के साथ तोमर के खिलाफ भी चार्जशीट दाखिल की है. चार्जशीट में बताया गया है कि विनोद तोमर पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह की तरह तरह से मदद करते थे. तोमर की यही कोशिश रहती थी कि जब भी कोई महिला रेसलर बृजभूषण से मिलने जाए तो, वह अकेली हो.

चार्जशीटके मुताबिक, जब शिकायत करने वाली पहलवान तीन अलग अलग मौकों पर बृजभूषण शरण सिंह से मिलने दिल्ली के अशोक रोड पर स्थित ऑफिस में गईं तब वे अकेली थीं. एक मामले में महिला पहलवान के पति और दूसरे मामले में पहलवान के कोच को जानबूझकर रोक दिया गया. तोमर डब्ल्यूएफाई के साथ 2 दशक से ज्यादा समय से जुड़े हुए हैं. उनपर आईपीसी की धारा 506 (डराना, धमकाना), सेक्शन 109, 354 और 354 ए के तहत मुकदमा दर्ज है. हालांकि इन सबके बीच तोमर ने खुद को निर्दोष बताया है.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक तोमर ने पूछताछ के दौरान इन आरोपों को पूरी तरह से नकार दिया है. चार्जशीट में कहा गया है कि शिकायत करने वाली एक पहलवान (161 और 164 के तहत बयान दर्ज कराया है) ने आरोप लगाया है कि वह अपने पति के साथ बृजभूषण शरण सिंह से मिलने दिल्ली के डब्ल्यूएफआई ऑफिस गई थीं लेकिन उन्हें बृजभूषण से अकेले मिलने दिया गया. विनोद तोमर ने उनके पति को ऑफिस के अंदर जाने से रोक दिया. उसी दिन बृजभूषण ने यौन शोषण किया. अगले दिन फिर महिला पहलवान के पति को बाहर रोक दिया गया और बृजभूषण ने फिर यौन उत्पीड़न किया.’ ये दोनों घटनाएं साल 2017 की हैं.

ये भी पढ़े: Chandrayaan-3: अगर सफल रहा मिशन तो इस दिन हो सकती है चंद्रमा पर लैंडिंग!

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED