Logo
October 19 2019 03:46 PM

अमेरिका के 44 सांसदों ने की ट्रंप से भारत का तरजीही व्यापार दर्जा वापस देंने की अपील

Posted at: Sep 18 , 2019 by Dilersamachar 6027

दिलेर समाचार, वाशिंगटन। अमेरिकी कांग्रेस के दोनों सदनों के 44 प्रभावशाली सांसदों ने डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन से अनुरोध किया है कि अमेरिका और भारत के बीच होने वाले संभावित व्यापार समझौते के हिस्से के रूप में अहम जनरलाइज़्ड सिस्टम प्रेफरेंस या GSP व्यापार कार्यक्रम के अंतर्गत भारत का लाभदायक विकासशील देश का दर्जा बहाल किया जाए. डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने जून माह में GSP के तहत लाभदायक विकासशील देश के रूप में भारत का दर्जा खत्म कर दिया था. GSP अमेरिका का सबसे पुराना तथा सबसे बड़ा व्यापार प्राथमिकता कार्यक्रम है. अमेरिकी व्यापार प्रतिनिध रॉबर्ट लाइटाइज़र को लिखे खत में संसद सदस्यों ने सुझाव दिया है कि 'अर्ली हारवेस्ट' रुख अपनाने से लाभ मिलेगा.

बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम होने वाला है. इस कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी शामिल होंगे. वहीं, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को कहा कि भारत और अमेरिका के संबंधों में ऐसा कोई क्षेत्र नहीं है, जहां आगे की दिशा में नहीं प्रगति नहीं हुई हो और दोनों देशों के संबंध काफी बेहतर स्थिति में हैं. मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरा होने पर विदेश मंत्री ने संवाददाताओं से कहा कि भारत और अमेरिका के संबंध पिछले 20 वर्षो में लगातार आगे की ओर बढ़े हैं, चाहे बुश प्रशासन हो, ओबामा या अब ट्रंप के तहत प्रशासन हो. दोनों देशों के बीच वाणिज्य को लेकर एक सवाल के जवाब में जयशंकर ने कहा कि दोनों देशों के बीच कारोबार समस्या ‘सामान्य' है.

उन्होंने कहा, ‘एक ही रास्ता है जब कारोबार समस्या नहीं होगी, जब हम कोई कारोबार नहीं करें . ऐसे में कारोबार समस्या :दोनों देशों के बीच: सामान्य बात है.'' उन्होंने कहा कि इस बारे में चर्चा हो रही है और वह इस बारे में आशावादी हैं. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अमेरिका की छह दिवसीय यात्रा 22 सितंबर से शुरू हो रही है . इस यात्रा के दौरान उनका ह्यूस्टन में भारतीय समुदाय को संबोधित करने का कार्यक्रम भी है.

इस बारे में पूछे जाने पर जयशंकर ने कहा कि यह भारतीय अमेरिकी समुदाय की बड़ी उपलब्धि है और यह स्पष्ट करता है कि उन्हें किस नजर से देखा जाता है और किस प्रकार का सम्मान दिया जाता है. अगर ऐसे किसी कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति शामिल होते हैं तब यह समुदाय की बड़ी उपलब्धि है. उन्होंने कहा, ‘यह बड़े सम्मान की बात है कि प्रधानमंत्री मोदी के ह्यूस्टन कार्यक्रम के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय समुदाय का आमंत्रण स्वीकार कर लिया है.' उन्होंने कहा कि हम उनका (ट्रम्प) बेहद गर्मजोशी से स्वागत करेंगे.

ये भी पढ़े: JNU छात्र संघ के चुनाव को लेकर स्वरा भास्कर का आया रिएक्शन, लोगों ने दिया ऐसे जवाब


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED