Logo
December 2 2022 04:23 PM

2019 में कन्नौज से अखिलेश और मैनपुरी से मुलायम सिंह यादव लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

Posted at: Jun 14 , 2018 by Dilersamachar 9687

दिलेर समाचार, नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में अपनी सीट को लेकर घोषणा कर दी है. गुरुवार को उन्होंने कहा कि वह अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में यूपी के कन्नौज से चुनाव लड़ेंगे जबकि उनके पिता और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव मैनपुरी सीट से चुनावी मैदान में उतरेंगे. उन्होंने इसकी घोषणा पार्टी मुख्यालय पर कार्यकर्ताओं की बैठक में  किया. यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्षी दल आरोप लगाते हैं कि समाजवादी पार्टी परिवारवाद को बढ़ावा देती है, इसलिये मेरी पत्नी पत्नी डिंपल यादव (वर्तमान में कन्नौज की सांसद) अगले चुनाव में हिस्सा नहीं लेंगीय.

गौरतलब है कि पार्टी कार्यकर्ताओं की इस बैठक में डिंपल यादव भी मौजूद थीं. जब उनसे गठबंधन और सीटों के बंटवारे को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जिस पार्टी से भी गठबंधन होगा, हमारे पार्टी कार्यकर्ता भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी को हराने और हमारे प्रत्याशी को जिताने के लिये पूरी तरह से कोशिश करेंगे. भाजपा प्रत्याशियों को इस बार जनता का समर्थन नहीं मिलेगा क्योंकि उन्होंने केवल बातें कीं, वास्तविक धरातल पर कोई भी विकास कार्य नहीं किया है. गौरतलब है कि अखिलेश यादव ने कुछ दिन पहले ही अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में बसपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की बात कही थी.पिछले दिनों समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने सपा-बसपा गठबंधन को लेकर बड़ा बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि 2019 में बीजेपी को हराने के लिए बीएसपी के साथ हमारा गठबंधन जारी रहेगा. बीजेपी को सत्ता से हटाने के लिए अगर हमें 2-4 सीटों की बलि भी चढ़ानी पड़ी तो भी हम पीछे नहीं हटेंगे. हमारा मक़सद बीजेपी को हराना है और इसके लिए हम कम सीटों पर लड़कर भी बीएसपी से गठबंधन को तैयार हैं. उपचुनावों में बीएसपी से हुआ गठबंधन 2019 में भी जारी रहेगा. अखिलेश यादव का बयान बसपा सुप्रिमो मायावती के बयान के बाद आया है.हाल ही में बीएसपी प्रमुख मायावती ने कहा था कि दूसरे दलों से गठबंधन तभी होगा जब हमें सम्मानजनक सीटें मिलें. मायावती के इस बयान के बाद अखिलेश का ये बयान काफ़ी अहम माना जा रहा है. वहीं उत्तर-प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने सपा और बसपा के बीच अनौपचारिक गठबंधन के लम्बा न टिकने का दावा करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले ही यह गठबंधन टूट जायेगा.

ये भी पढ़े: सलमान खान के बहनोई के दिल के करीब रहेगी 'लवरात्रि', क्या आपने देखा टीजर?

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED